जनपथ न्यूज डेस्क

Reported by: गौतम सुमन गर्जना/भागलपुर
Edited by: राकेश कुमार
17 अक्टूबर 2022

भागलपुर : भागलपुर जिले में चल रहे बिहार मद्य निषेध विभाग की रविवार को आयोजित सिपाही परीक्षा में करीब 15 सेंटरों पर 5 पांच हजार से अधिक अभ्यर्थी शामिल हुए थे। पुलिस और प्रशासनिक स्तर पर हुई चेकिंग के दौरान पुलिस जिला के विभिन्न थाना क्षेत्रों में मौजूद 11 सेंटरों पर 78 महिला व पुरुष मुन्ना भाई पकड़े गए। काफी संख्या में अभ्यर्थियों द्वारा की जा रही चोरी के मामले की जानकारी मिलते ही एसएसपी, सिटी एसपी और एएसपी ने खुद कई सेंटरों पर जांच की और पकड़े गए अभ्यर्थियों से पूछताछ की। एसएसपी बाबू राम ने बताया कि सभी अभ्यर्थियों से बारी- बारी पूछताछ की जा रही है। आशंका है कि कोई बड़ा रैकेट परीक्षा के दौरान चल रही है, जो इस चोरी के पीछे है। पूरे मामले की जांच के लिए एक विशेष टीम का गठन किया गया है।

ब्लूटुथ के सहारे दे रहे थे परीक्षा : परीक्षा सेंटरों पर पकड़े गए ज्यादातर मुन्ना भाई ब्लूटुथ के सहारे परीक्षा दे रहे थे। जांच के दौरान नाथनगर एसएस बालिका उच्च विद्यालय, बोल्डवीन चाइल्ड स्कूल और बीएन कॉलेज को मिलाकर ब्लूट्रुथ के सहारे परीक्षा देते हुए तीन महिला सहित 39 नकलची पकड़े गए। पकड़े गए सभी परीक्षार्थियों को पुलिस ने अपने कस्टडी में सेंटर के अंदर ही परीक्षा चलने तक रखा, इसके बाद थाना लेकर आयी है। पुलिस के अनुसार एसएस बालिका उच्च विद्यालय में 14 पुरुष और एक महिला, बोल्डवीन चाइल्ड स्कूल में 17 पुरुष और एक महिला, बीएन कॉलेज में पांच पुरुष और एक महिला को पकड़ा गया है। मामले में पुलिस सभी से कड़ाई से पूछताछ कर रही है।

ऐसे पकड़े गए नकलची परीक्षार्थी : एसएस बालिका उच्च विद्यालय परीक्षा केंद्र से परीक्षा देकर निकले एक छात्र ने बताया कि स्कूल के दूसरे तल्ले पर एक परीक्षार्थी ने अपने पास मौजूद मोबाइल से किसी तरह से पूरे पश्न पत्र का फोटो लेकर भेज दिया। परीक्षार्थी के पास मोबाइल वरीक्षक ने देख लिया। इसके बाद उससे कड़ाई से पूछताछ की गयी तो उसने बताया कि सेंटर पर कई लोगों के पास ब्लूटुथ है। जांच में 15 नकलची पकड़े गए। सभी ने कान में ब्लूटुथ डाल रखा था और उसका डिवाइस कमर और कांख में छिपा रखा था।

 360 total views,  3 views today