जनपथ न्यूज स्टेट डेस्क
रिपोर्ट: गौतम सुमन गर्जना, भागलपुर
20 जुलाई 2022

भागलपुर : रेलवे स्टेशन बुधवार को भी हाई अलर्ट रहा। चप्पे-चप्पे पर रेलवे सुरक्षा बल व रेल पुलिस के जवान तैनात रहे। आरपीएफ इंस्पेक्टर रणधीर कुमार व जीआरपी थाना प्रभारी अरविंद कुमार ने सुरक्षा की कमान संभाली। इस मौके पर सुरक्षा इंतजामों का जायजा लिया गया।

आरपीएफ मुख्यालय से भी सुरक्षा अधिकारी द्वारा स्टेशन की सुरक्षा व्यवस्था की रिपोर्ट ली गई। आरपीएफ व रेल थाने की सीमा तक जवानों ने खास नजर रखी। सुबह सुरक्षाकर्मियों को आवश्यक दिशा-निर्देश देकर स्टेशन की जिम्मेदारी सौंप दी गई थी। स्टेशन पर रुकने वाली गाड़ियों में भी इन सुरक्षा बलों के जवानों ने गहन जांच की गई। आरपीएफ इंस्पेक्टर व रेल थानाध्यक्ष ने रेलवे स्टेशन का निरीक्षण भी किया। खास तौर पर ओपेन एंट्रेंस पर पैनी नजर रखने की हिदायत अपने जवानों को दी थी।

जवानों ने प्लेटफाॅर्म 1 से 6 तक बारी- बारी से जांच की। एंट्रेंस गेट के समीप लगे लगेज स्कैनर से लोगों के समान जांच करने के बाद ही उन्हें प्लेटफाॅर्म पर प्रवेश करने दिया गया। वहीं, सुबह में भी कई ट्रेनों के साथ-साथ प्लेटफाॅर्म 1 से 6 तक बारी बारी से जांच की गयी। प्लेटफॉर्म पर ट्रेन की प्रतीक्षा में बैठे यात्रियों के सामान की भी जांच की गई।

संदिग्धों पर सीसीटीवी के जरिये नजर रखी जा रही थी। संदिग्धों पर सीसीटीवी के जरिये नजर रखी जा रही थी। यही जांच प्रक्रिया शाम में भी चली। आरपीएफ इंस्पेक्टर रणधीर कुमार ने बताया कि स्टेशन के सभी जगहों पर जांच की गयी। यह लगातार जारी रही है। बता दें कि आइबी द्वारा श्रावणी मेला को लेकर रेलवे स्टेशन को हाई अलर्ट पर रखा गया है।

गौरतलब है कि सोमवार को देर रात तकरीबन 12.05 बजे भागलपुर स्टेशन परिसर स्थित रेल थाना के पीछे कार पार्किंग में हाइमास्ट लाइट के नीचे बम मिलने की अफवाह से अफरा-तफरी मच गयी थी इसलिए इसलिए सुरक्षा बढ़ा दी गयी थी। आरपीएफ के जवान उस बमनुमा संदिग्ध वस्तु की जांच में रात तीन बजे तक जुटे रहे थे और बम निरोधक दस्ता को बुलाया गया था। श्रावणी मेला को लेकर जिले में हाई अलर्ट, जिला प्रशासन से लेकर केंद्रीय सुरक्षा एजेंसी की तैनाती, अतिरिक्त पुलिस बल मंगाने एवं रेल पुलिस की अपनी पुख्ता तैयारी के बीच स्टेशन परिसर में बम मिलने की सूचना से लोगों के बीच दहशत का माहौल बन गया था।

आरपीएफ इंस्पेक्टर रणधीर कुमार ने बताया कि सोमवार की देर रात को शरारती तत्वों ने कागज में लपेट कर ठंडा के छोटे बोतल को रस्सी से बांध कर रेलवे परिसर में फेंक दिया था। फेंका गया बोतल माचिस की तिलियां व कागज से बोतल भरा हुआ था। बम निरोधक दस्ता की जांच के बाद स्पष्ट हुआ कि वह बम नहीं है। इसको लेकर कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है। उन्होंने रेल यात्रियों को अफवाहों से परहेज कर संदिग्धों पर पैनी निगाहें बनाए रखने की अपील करते हुए कहा कि ऐसे संदिग्ध लोगों की सुचना देकर रेलवे पुलिस की मदद करें।

3 Views

Leave a Reply

Your email address will not be published.