जनपथ न्यूज़ पटना. रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा शनिवार को पटना के कोतवाली थाने में पेश हुए। लाठीचार्ज मामले में उन्हें थाने से बेल मिल गई। कुशवाहा दोपहर करीब 1:30 बजे थाने पहुंचे। उनके साथ सैकड़ों की संख्या में समर्थक थे। कुशवाहा अकेले थाने में गए। वहीं, उनके समर्थक थाने के बाहर जमे रहे और बिहार सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।
क्या है मामला?
2 फरवरी को रालोसपा ने राजभवन मार्च निकाला था। उपेंद्र कुशवाहा और पार्टी के नेता हजारों समर्थकों के साथ जेपी गोलंबर से निकले थे। विरोध प्रदर्शन कर रहे लोग डाकबंगला चौराहा पहुंचे तो पुलिस ने उन्हें आगे बढ़ने से रोक दिया था। रालोसपा के लोग डाकबंगला चौराहा पर लगी पुलिस बैरिकेडिंग को तोड़कर आगे बढ़ना चाहते थे। पुलिस ने रोका तो झड़प शुरू हो गई थी। रालोसपा कार्यकर्ताओं ने लाठी चमकाया और पुलिस पर पथराव किया था। पुलिस ने भी लाठीचार्ज किया था। लाठीचार्ज में कई नेताओं को चोट लगी थी। उपेंद्र कुशवाहा भी जख्मी हो गए थे। उन्हें पीएमसीएच में भर्ती कराना पड़ा था।
इस मामले में पुलिस ने उपेंद्र कुशवाहा और सुनील कुमार के खिलाफ नामजद और तीन सौ अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया है। इसी केस के संबंध में कुशवाहा को नोटिस मिला था, जिसके बाद वह कोतवाली थाना पहुंचे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.