शिक्षक, साहित्यकार और कुशल संगठनकर्ता थीं डॉ० वीणा रानी श्रीवास्तव: उपमुख्यमंत्री

जनपथ न्यूज डेस्क/पटना
01 अगस्त, 2022

पटना: डॉ० वीणा रानी श्रीवास्तव स्मारक न्यास् की ओर से बिहार विधान परिषद् के सभागार में आयोजित डॉ० वीणा रानी श्रीवास्तव की 84 वीं जयंती -सह- स्त्री शक्ति सम्मान समारोह का उद्घाटन करते हुए बिहार के उपमुख्यमंत्री श्री तारकिशोर प्रसाद ने कहा कि पटना सांस्कृतिक एवं साहित्यिक गतिविधियों का प्रमुख केंद्र रहा है। एक शिक्षक, साहित्यकार और कुशल संगठनकर्ता के रूप में डॉ० वीणा रानी ने अपनी अलग पहचान बनायी।

उन्होंने कहा कि डॉ० वीणा रानी श्रीवास्तव संघ के अनुषांगिक संगठन संस्कार भारती से आजीवन जुड़ी रहीं। उन्होंने जे.पी. आंदोलन के दौरान नारी मंडल का कुशलतापूर्वक नेतृत्व किया। संस्कार भारती को विकसित करने में उनके योगदानों को हमेशा याद किया जाता रहेगा। उन्होंने कहा कि डॉ० वीणा जी भले ही आज हमारे बीच नहीं हैं, परंतु एक आदर्श गुरु और संगठनकर्ता के रूप में उनकी विरासत हम सबों के साथ हैं। उनका व्यक्तित्व और कृतित्व आगामी पीढ़ी के लिए सदैव अनुकरणीय रहेगा।

इस अवसर पर बी.एन. मंडल विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति श्री अमरनाथ सिन्हा, वरिष्ठ साहित्यकार श्रीमती उषा किरण खान, भाजपा की वरिष्ठ नेत्री श्रीमती किरण घई, प्रसिद्ध चिकित्सक पद्मश्री डॉ० शांति राय, चरखा समिति के अध्यक्ष डॉ० तारा सिन्हा, संस्कार भारती के अध्यक्ष श्री श्याम शर्मा, विधायक श्री प्रणव कुमार, डॉ० हरि सहनी, दधीचि देहदान समिति के संयोजक श्री विमल जैन, श्रीमती मृदुला प्रकाश, डॉ० जूही समर्पिता, अपराजिता शुभ्रा, सुदीप घोष सहित अन्य गणमान्य लोग एवं साहित्य सेवी उपस्थित थे।

 87 total views,  3 views today