अभी घंटाघर से आदमपुर तक के ही खंभे हटेंगे

जनपथ न्यूज डेस्क
Reported by: गौतम सुमन गर्जना
Edited by: राकेश कुमार
12 दिसंबर 2022

भागलपुर :शहर में स्मार्ट राेड और शहरी बाइपास का निर्माण हाे रहा है। इससे शहर की सड़कें चाैड़ी हाे रही हैं। लेकिन निर्माण से पहले सड़क किनारे के बिजली के पाेल और ट्रांसफार्मराें काे शिफ्ट नहीं किया गया। घंटाघर चाैक से आदमपुर हाेते हुए विक्रमशिला सेतु पहुंच पथ तक हुए निर्माण में 244 बिजली के पोल और 28 से अधिक ट्रांसफार्मर सड़क पर आ गए हैं। इससे हादसे की आशंका बढ़ गई है। यह भी आशंका है कि अब इन्हें हटाने के दाैरान फिर सड़क में ताेड़फाेड़ हाेगी। इससे पहले भी शहर में पानी का पाइप लाइन बिछाने के दाैरान कई नई बनी हुई सड़क काे खाेद दिया गया। मिरजान के शीतला स्थान चाैक से गुड़हट्टा चाैक की सड़क इसका बड़ा उदाहरण हैं। कई गलियाें की भी यही हालत हो गई है।

गौरतलब है कि घंटाघर चौक से आदमपुर चौक पर सड़क पर 94 पोल व 7 ट्रांसफार्मर आ गए हैं। जबकि आदमपुर से बड़ी खंजरपुर, मायागंज होते हुए विक्रमशिला सेतु पहुंच पथ तक शहरी बायपास पर लगभग 150 पोल व 21 ट्रांसफार्मर आ गए हैं। इन दोनों जगहों के पोल शिफ्टिंग के लिए 4.25 करोड़ का एस्टीमेट बिजली कंपनी ने निर्माण एजेंसी को दे दिया है। कहा जा रहा है कि घंटाघर से आदमपुर तक पाेल शिफ्टिंग का काम अगले सप्ताह से शुरू हाे जाएगा। लेकिन उससे आगे मूर्ति विसर्जन मार्ग है। वहां तार काे अंडरग्राउंड किया जाना है, इसलिए वहां का काम कब और कैसे हाेगा, इसका निर्णय नहीं हाे पाया है।आदमपुर से आगे मूर्ति विसर्जन मार्ग में तार काे अंडरग्राउंड किया जाना है,इसलिए इस कार्य में देर होगी।
बैठक के बाद तय हाेगा विसर्जन मार्ग में कैसे करेंगे काम : इस बावत सुपरिटेडेंट इंजीनियर गौरव पांडेय ने बताया कि सड़क निर्माण एजेंसी को पाेल व ट्रांसफार्मर का एस्टीमेट बनाकर दे दिया गया है। इसमें 4.25 करोड़ खर्च हाेंगे। काम निर्माण एजेंसी काे कराना है। बिजली कंपनी केवल माॅनिटरिंग करेगी। घंटाघर से आदमपुर के लिए स्वीकृति मिल गई है। एक सप्ताह के भीतर काम शुरू हाेगी। डीएम का निर्देश है कि विसर्जन मार्ग में एलटी वायर को अंडरग्राउंड किया जाए। अगर बिजली में कभी खराबी हुई ताे उसे ठीक करने में कठिनाई हाेगी।

बरारी राेड में हैं सबसे अधिक हैं पाेल : अभी डीएम आवास से लेकर बरारी मुख्य मार्ग में सड़कों पर पोल की संख्या सबसे अधिक है। स्मार्ट रोड पर भी पोल और ट्रांसफार्मर कई जगहों पर सड़क के बीच में आ गए हैं। इससे जिससे गाड़ी चलाने वालाें काे दिक्कत हाे रही है। हादसे की आशंका है। मायागंज से बड़ी खंजरपुर होते हुए आदमपुर चौक तक सड़कों के दोनों किनारे से पोल और ट्रांसफार्मर हटाने हैं। बिजली विनियामक आयोग ने भी विसर्जन मार्ग में तार को अंडरग्राउंड करने का निर्देश दिया था। बिजली विभाग के अधिकारियों की मानें तो एलटी वायर से ही उपभोक्ताओं के घरों में बिजली जाती है। अगर इसमें किसी तरह की समस्या आएगी ताे तो फिर सड़क को तोड़ना हाेगा। बार-बार समस्याएं उत्पन्न होंगी।

पाेल शिफ्टिंग में नई सड़क काे नहीं खाेदेंगे : स्मार्ट सिटी भागलपुर के सीजीएम संदीप कुमार ने बताया कि पोल शिफ्टिंग के दौरान सड़कों की खुदाई नहीं होगी। सड़क से पोल काे काट कर हटा दिया जाएगा। नई जगह पर नए पोल लगाए जाएंगे।

 117 total views,  3 views today