जनपथ न्यूज डेस्क
Reported by: गौतम सुमन गर्जना, भागलपुर

भागलपुर : बिहार के भागलपुर जिले में जनवरी 2022 से लेकर अबतक 16,837 नई गाड़ियां सड़कों पर उतरीं है और गाड़ी मालिकों ने 41.66 करोड़ रुपये का शुल्क भरा लेकिन इसके बावजूद दुखद खबर यह है कि भारी भरकम टैक्स भरने के बाद भी गाड़ी मालिकों को चलने लायक सड़कें नहीं मिल रही है और पिछले आठ महीने से लोग गड्ढों में गाड़ियां चला रहे हैं। 2021 में भी जितनी गाड़ियां शो रूम से निकलीं उनके मालिकों की भी यही दशा है।

दरअसल,अगस्त 2021 से पाइपलाइन बिछाने के लिए शहर में सड़कें काटी जा रही हैं और ठेकेदार इन सड़कों के मालिक बन बैठे हैं। बता दे कि इन सड़कों पर कुछ ही रिस्टोर हो सकी हैं। बाकी की स्थिति बद से बदतर हो चुकी है।

*बारिश में पानी तो सूखाड़ में धूल बनी समस्या*
पाइप लाइन बिछाने के लिए काटी गई सड़कों का हाल यह है कि बारिश में पानी भरे गड्ढे और सूखाड़ के दिनों में धूल-मिट्टी लोगों के लिए समस्या बनी हुई है। अभी बारिश का मौसम है, तो सड़कों पर जगह-जगह छोटे-बड़े गड्ढे हो गये हैं, जिनमें रोजाना कोई न कोई गिरता है लेकिन इन्हें कोई देखने वाला नहीं है।

*अभी सड़कों की पीड़ा दूर नहीं होने वाली है*
हालांकि, अभी काम पर रोक है लेकिन अभी भी सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट (एसटीपी) के लिए सड़कों की कटाई होगी। अधिकारी के अनुसार अलीगंज और नरगा से यूनिवर्सिटी तक तीन से चार मीटर गहराई तक सड़क काटी जायेगी और इसकी तैयारी चल रही है। निर्देश के बाद एक बार फिर सड़कें कटेंगी,भले पहले से कटी सड़कें नहीं बनी हों।

*बरारी रोड के लिए एस्टिमेट तैयार*
इस मामले को लेकर पथ निर्माण विभाग कार्य प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता नवल किशोर सिंह ने बताया कि पहले काटी गयी सड़कों में कुछ ही का रिस्टोरेशन होना बाकी है। बरारी रोड के लिए एस्टिमेट तैयार हो रहा है। सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट के पाइप बिछाने के लिए अभी सड़कों को काटा जायेगा। हालांकि, अभी सड़कों को काटने पर रोक लगा दी है और अभी रूट भी तय नहीं हुआ है। रूट फाइनल होने के बाद तीन से चार मीटर गहरायी में सड़कें काटी जायेंगी। बुडको से अभी करीब 19 करोड़ लिया जायेगा और काम तेजी से होगा।

*भागलपुर में कुल पंजीकृत वाहन*
ट्रैक्टर ट्रॉली (कॉमर्सियल)- 03, मैक्सी कैब 886, मोटर कैब 6443, बस 1096, एंबुलेंस 88, कैंपर वैन/ट्रेलर 01, फायर टेंडर्स 08, फायर फाइटिंग वेहिकल -06, आर्टिकुलेटेड वेहिकल -15, ओमनी बस-05, एक्सकावेटर (कॉमर्सियल) -01, ट्रेलर (कॉमर्सियल) -8774, इ-रिक्शा विद कार्ट (जी) -44, ई-रिक्शा (पी) -6821, थ्री व्हीलर (पैसेंजर) -20785, थ्री व्हीलर (गुड्स) -2871, गुड्स कैरियर -13744, ट्रैक्टर (कॉमर्सियल) -13694, नन ट्रांसपोर्ट-234748, बाइक/स्कूटर विद साइड कार -162,
मोपेड -201, मोटराइज्ड साइकिल (25 सीसी से अधिक) -59, एडेप्टेड वेहिकल -06,मोटर कार -22126, वेहिकल फिटेड विद रिग -01,
एग्रीकल्चर ट्रैक्टर -1631, कंस्ट्रक्शन इक्वीपमेंट वेहिकल -61,ट्रेलर (एग्रीकल्चर) -154, अर्थ मूविंग इक्वीपमेंट -01 और मोटरसाइकिल/स्कूटर-210346.

2 Views