जनपथ न्यूज डेस्क/पटना
Reported & Edited by: राकेश कुमार
www.janpathnews.com
9 नवम्बर 2022

पटना: कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर बिहार की राजधानी पटना में श्रद्धालुओं ने आज गंगा नदी में आस्था की डुबकी लगाई। कार्तिक पूर्णिमा के मौके पर राजधानी पटना में देर रात से ही ग्रामीण क्षेत्रों से बड़ी संख्या में लोगों के आने का सिलसिला शुरू हो गया, जो अभी तक जारी है। पटना नगर निगम ने श्रद्धालुुुुुओं की सुरक्षा के लिए सभी घाटों की बैरिकेडिंग कराई थी। नगर आयुक्त अनिमेश कुमार पराशर ने बताया कि गंगा घाट पर नगर निगम कर्मी तैनात कर दिए गए हैं। शिवाघाट, पाटीपुल घाट, मीनार घाट, बंदटोली घाट, दीघा 93 घाट, कुर्जी घाट, कलेक्ट्रेट घाट पर स्नान करने की व्यवस्था की गई। सुबह होते ही श्रद्धालु ‘हर-हर गंगे, जय गंगा मैया, हर हर महादेव’ के जयकारे के साथ गंगा में डुबकी लगाने लगे। स्नान के बाद लोगों ने विभिन्न मंदिरों में पूजा-अर्चना की और दान भी किया। बता दे कि राजधानी पटना में 55 गंगा घाटों पर ढाई लाख से ज्यादा श्रद्धालुओं ने आस्था की डुबकी लगाई।

मान्यता है कि कार्तिक पूर्णिमा के दिन गंगा में स्नान करने से श्रद्धालुओं की मनोकामना पूर्ण होती है। लोगों का मानना है कि कार्तिक पूर्णिमा के दिन गंगा में अवश्य स्नान करना चाहिए। यह परंपरा सदियों से चली रही है और कार्तिक पूर्णिमा के दिन लोग बिहार के कई हिस्सों से पटना में गंगा में डुबकी लगाने पहुंचते हैं।

 132 total views,  3 views today