देव ज्योति मुखर्जी व विजय यादव सहित कईयों ने मेयर प्रत्याशी श्वेता प्रियदर्शनी को दिया आशीर्वाद

जनपथ न्यूज डेस्क
Reported by: गौतम सुमन गर्जना
Edited by: राकेश कुमार
www. janpathnews.com
10 December 2022

भागलपुर : बिहार निकाय चुनाव को लेकर अब तमाम संशय खत्म हो चुके हैं। सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को एक अहम याचिका को लेकर यह तय किया कि अब आयोग से जुड़े विवाद पर जनवरी में तय तारीख पर ही सुनवाई होगी। जिसके बाद अब यह तय माना जा रहा है कि राज्य निर्वाचन आयोग के द्वारा तय की गयी तिथियों में ही चुनाव होंगे। वहीं, सुप्रीम कोर्ट की सुनवाई के बाद अब भागलपुर समेत अन्य जिलों में उम्मीदवार सक्रिय हो गये हैं।

घर से निकल रहे उम्मीदवार : राज्य निर्वाचन आयोग की ओर से नगर निकाय चुनाव की दोबारा घोषणा के बाद एक बार फिर से चुनावी चर्चा शुरू हो गया और प्रत्याशी घर-घर भ्रमण करने लगे हैं। चौक-चौराहों पर चुनाव की चर्चा के साथ-साथ सड़कों पर चुनाव को लेकर प्रचार गाड़ी घुमने लगा है। एक के बाद एक प्रचार गाड़ी का शोर से माहौल चुनावी रंग मे रंग गया है।

दो चरणों में चुनाव : पहले चरण में 18 दिसंबर को चुनाव होना है। जबकि दूसरे चरण का मतदान 28 नवंबर को होगा। इसे लेकर चुनाव के मैदान में उतरे प्रत्याशी एक बार फिर से सक्रिय होकर अपने अपने मतदाताओं को चुनाव की तारीख एवं अपना सिंबल याद दिलाने लगे हैं। प्रत्याशियों द्वारा मतदाताओं से मिलने-जुलने का दौर शुरू हो चुका है। मतदाता भी प्रत्याशी को टटोलने मे लगे है।

सोशल मीडिया पर सक्रियता बढ़ी : सुप्रीम कोर्ट की ओर से शुक्रवार को सुनवाई के बाद सोशल मीडिया पर भी चुनाव को लेकर प्रत्याशी अपने सिंबल को पोस्ट कर मतदाता को अपनी मौजूदगी का एहसास कराने लगे हैं। एक बार फिर से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर चुनाव से जुड़े बैनर पोस्टर व मतदाता से संपर्क करने का तस्वीर दिखने लगा है। अपने चुनाव सिंबल को पोस्ट कर जिन पदों के लिए अपनी भागीदारी पेश की है, उनकी याद दिला चुनाव से जुड़े तरह-तरह के स्लोगन लिख अपने पक्ष में वोट देने की अपील कर रहे हैं।

चुनाव कराने का रास्ता साफ : वहीं चुनाव की तारीखों की घोषणा होने के बाद प्रशासनिक स्तर पर भी तैयारियां तेज कर दी गयी है। वरीय अधिकारियों द्वारा अधीनस्थ अधिकारियों को दिशा निर्देशित कर चुनाव से जुड़े तैयारी करने का निर्देश दिया गया है। चुनाव निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण माहौल में संपन्न कराने के लिए प्रशासनिक तैयारी तेज हो गयी है। विदित हो कि सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को कहा कि अति पिछड़ा आयोग के विवाद को तय तारीख 20 जनवरी को ही सुना जाएगा। जिसके बाद अब चुनाव कराने का रास्ता साफ हो गया है।
इसी कड़ी में भागलपुर में महापौर पद के लिए एक चर्चित उम्मीदवार श्वेता प्रियदर्शनी ने समर्थन बनाम परिवर्तन को लेकर स्थानीय मंदरोजा में एक बैठक का आयोजन किया। आयोजित बैठक में कई बुद्धिजीवियों के साथ निरवर्तमान पार्षद सह पार्षद प्रत्याशी व विभिन्न वार्डों के युवा मतदातागण उपस्थित थे। आयोजित बैठक की अध्यक्षता जदयू नेता शिशुपाल भारती ने की। इस दौरान जीरो टोलरेंस के मुद्दे पर चुनावी रणनीतिकार देवज्योति मुखर्जी, चर्चित युवा समाजसेवी विजय यादव, टिंकू यादव, गोविंद बनर्जी, कलमकार सोमनाथ आर्या, अधिवक्ता दिलीप कुमार, कपिल यादव सहित सैकड़ों युवा व बुद्धिजीवियों ने मेयर प्रत्याशी श्वेता प्रियदर्शनी को न केवल जीत की अग्रिम बधाई दी बल्कि इस मौके पर अपनी महत्ती सुझाव देते हुए चुनावी रणनीति बनाई और कहा कि निश्चित रूप से अब भागलपुर के अच्छे दिन लोगों को देखने मिलेंगे। अंत में उपस्थित लोगों ने भागलपुर के 51 वार्डों के सभी बूथों पर अपनी रणनीति के तहत काम करने का संकल्प लिया और कहा कि स्वस्थ और स्वच्छ भागलपुर के लिए हम सब एकजूट हैं और एकजूट रहेंगे। लोगों ने सोशल प्रोटेक्शन फौर्श बनकर यह संकल्प लिया कि भागलपुर नगर निगम क्षेत्र की प्रगति और उन्नति के लिए अब वे जागे रहेंगे और 28 दिसंबर के बाद ही चैन की नींद सोएंगे।

 579 total views,  3 views today