काफी विवेकशील है बिहार की जनता जो केवल प्रेम की भाषा समझती है : डाॅ० अखिलेश

जनपथ न्यूज डेस्क
Reported by: गौतम सुमन गर्जना
Edited by: राकेश कुमार
8 जनवरी 2022

भागलपुर/बाँका: बिहार कांग्रेस की भारत जोड़ो यात्रा भारी भीड़ व भारी जनसमर्थन देश की एकता और अखंड़ता का गवाह बन रही है। इस यात्रा के पहले दिन ही बड़ी संख्या में लोग उमड़ पड़े थे और कांग्रेस की इस यात्रा का लोगों ने खुलेमन से न केवल समर्थन किया, बल्कि इस यात्रा के संग कदम से कदम मिलाकर चलने की उन्होंने शपथ भी ली।

वहीं, भारत जोड़ो यात्रा के तीसरे दिन शनिवार को सार्वजनिक रुप से इंटर कॉलेज, बाँका में झंडोत्तोलन के पश्चात इस यात्रा की शुरूआत हुई। यह यात्रा मख़्दूम्मा पंचायत होते हुए इंगलिश मोड़ पहुँची, जहां कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ० अखिलेश प्रसाद सिंह ने एक जनसभा को संबोधित किया। उसके बाद यात्रा में शामिल लोगों ने बीडी एकेडमी खेमीचक अमरपुर में दोपहर का विश्राम किया.इस दौरान कांग्रेस अध्यक्ष डाॅ० अखिलेश सिंह एवं प्रभारी भक्तचरण दास ने सामूहिक रूप से स्थानीय लोगों से बातचीत कर यहाँ की समस्याओं को जानने का प्रयास किया। तत्पशचात वहाँ से यात्रा में शामिल जत्था आगे बढ़ते हुए अमरपुर मुख्य बाजार होते हुए डुमरामा व हसनपुर होते हुए भागलपुर ज़िले में प्रवेश कर गई, जहां बाँका ज़िला के कांग्रेस अध्यक्ष संजीव सिंह ने भागलपुर ज़िला कांग्रेस अध्यक्ष परवेज़ आलम को ध्वज सौंपा। पदयात्रियों ने रात्रि विश्राम संत पथिक कॉलेज रतनगंज में किया। पूरे यात्रा के दौरान जगह-जगह लोगों ने प्रभारी भक्त चरणदास,अध्यक्ष तथा अन्य यात्रियों के उपर पुष्प वर्षा करते रहे। सड़क के दोनों किनारे लोग यात्रियों का घंटों इंतज़ार करते देखे गये। इस यात्रा को देख सड़क किनारे खड़ बड़े बुजुर्गों ने यह कहा कि यूं तो यात्राओं के नाम पर बिहार में खूब राजनीति होती रही है लेकिन गांधी जी की दांडी यात्रा के बाद वे इस दूसरी यात्रा को देख रहे हैं।

इस क्रम में बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी के माननीय अध्यक्ष डाॅ० अखिलेश प्रसाद सिंह ने अमरपुर बस स्टैंड पर भीड़ के हुजूम को संबोधित करते हुए कहा कि इस यात्रा से लोगों के बीच शांति एवं सद्भाव का संदेश जा रहा है और नफ़रत की दीवार टूट रही है। सड़क के दोनों किनारे अति उत्साहित भीड इस बात का गवाह है कि देश के लोग इस कुशासन का अंत चाहते हैं।

उन्होंने कहा कि यह कोई चुनावी यात्रा नहीं बल्कि लोगों के बीच प्रेम का संदेश देनें की यात्रा है। यात्रा के दौरान जगह-जगह स्थानीय लोगों ने यात्रा के जत्थे को रोक कर स्वागत किया एवं लोगों ने उनसे संवाद स्थापित किया। यह यात्रा कई दलित एवं मुस्लिम बस्तियों से भी होकर गुजरी, जहां के लोगों ने भी बड़े ही उत्साह से यात्रियों का स्वागत किया और भारत जोड़ो यात्रा के समर्थन में नारे लगाये। यह यात्रा परिवर्तन का बीज बो रही है.यात्रा के दौरान देश की एकता और अखंडता का संदेश लोगों में दिया गया। यात्रा में शामिल होने के लिए दूर- दराज गांवों और इलाकों से आए बड़े- बुजुर्गों ने माननीय अध्यक्ष अखिलेश सिंह और यात्रियों को आशीर्वाद दिया और कांग्रेस के प्रति अपना विश्वास प्रकट करते हुए कहा कि कांग्रेसी ही एक ऐसी पार्टी है जो अमीर गरीब सब को एक साथ लेकर चलती है। लोगों ने कहा कि निश्चित रूप से देश में कांग्रेस की अगुवाई में फिर से अच्छे दिन लौटेंगे। यात्रा में शामिल युवाओं और महिलाओं के साथ- साथ बच्चे भी मौजूद थे,जिनमें भी भारी उत्साह दिखा।

यात्रा जिन- जिन राहों से गुजरी,वहां पहले से ही लोग इसमें शामिल होने के लिए इंतजार करते दिखे। जैसे- जैसे यात्रा आगे बढ़ती गई, लोग इसमें शामिल होते गए। देखते- देखते यात्रियों की संख्या जनसैलाब में तब्दील हो गई। भारी भीड़ के बावजूद यात्रा अनुशासित और संयमित ढंग से आगे बढ़ रही थी, जिसमें काफी जोश दिख रहा था। यात्रा में शामिल कुछ बड़े- बुजुर्गों यह कहते सुने गए कि जब वे बच्चे थे, तो राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के नेतृत्व में अंग्रेजों के खिलाफ यात्राएं निकाली गई थीं, परंतु देश की आजादी के बाद पहली बार किसी सरकार के खिलाफ हम सड़क पर उतरने को बाध्य हुए हैं। यात्रा में शामिल लोगों ने महंगाई, बेरोजगारी, गरीबी, अशिक्षा और जात- पात के खिलाफ अपनी आवाजें बुलंद की और सरकार से इसे दूर करने की मांग की। तीसरे दिन की यात्रा लगभग 24 किमी की यात्रा के बाद संत पथिक स्कूल, रतनगंज में रात्रि विश्राम कर किया गया।

यहीं पर भागलपुर बाँका के बॉर्डर पर बाँका ज़िला अध्यक्ष संजीव सिंह ने भागलपुर ज़िला कांग्रेस अध्यक्ष परवेज़ आलम को झंडा सौंपा। इसके बाद आज रविवार को चौथे दिन आठ जनवरी को यात्रा की शुरुआत भागलपुर ज़िले में इसी स्कूल से शुरु होगी। कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रभारी भक्तचरण दास भी इस यात्रा में साथ चल रहे हैं। उन्होंने बताया कि इस यात्रा में आम जनता, कांग्रेस के कार्यकर्ता, नेता के साथ-साथ स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधिगण भी भाग ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि लोगों का मन टूट चुका है, लोग महंगाई, बेरोज़गारी से त्रस्त हो चुकी है। आज वे हमारे इस यात्रा में कदम से कदम मिलाकर खड़े हो रहे हैं। प्रदेश कांग्रेस के माननीय अध्यक्ष अखिलेश सिंह ने लोगों से भारी संख्या में इस यात्रा में शामिल होने का आह्वान किया है।

यात्रा में भागलपुर के विधायक एवं विधानसभा में कांग्रेस विधायक दल के नेता अजीत शर्मा,बिहार सरकार पंचायती राज विभाग के मंत्री मुरारी गौतम, पूर्व अध्यक्ष अनिल शर्मा, ब्रजेश पांडेय, बंटी चौधरी, युवा कांग्रेस अध्यक्ष शिवकुमार, गरीब दास, वरिष्ठ कांग्रेसी नेता मनोज सिंह, ललन यादव, आनन्द माधव,आकाश सिंह, कुमार आशीष, आशिफ गफ़ूर, मिन्नत रहमानी, केसर सिंह, जितेंद्र सिंह, किशोर कुमार झा, अनिमेष अनीश, अविनाश प्रसाद सिंह, ज़िलाध्यक्ष संजीव सिंह, निरमलेंदु वर्मा, ई० संजीव कुमार सिंह, अमिताभ शरण, कैलाश पाल, पप्पूसिंह, विद्यानंद मिश्र, अश्वनी कुमार, सौरभ सिन्हा,कुंदन गुप्ता, अमित कुमार, मनजीत आनन्द साहू, शंकर स्वरूप पासवान, सिद्धार्थ क्षत्रिय, कमलेश कमल, राकेश सिंह,अनिल कुमार वर्मा, जन्मोंत्री ममता निषाद, रीता सिंह, सुधा मिश्रा, कंचना सिंह, विनय कापरी, सुरेश यादव, महेश्वरी प्रसाद यादव, प्रदीप चक्रवर्ती, अनिल झा, बलराम यादव, डाॅ. मनसूर, आनन्द कृष्ण, अजय कुमार सिंह, विश्वजीत कुमार ,आलोक हर्ष आदि उपस्थित रहे। स्वयं सेवी संस्थाओं से अशोक प्रियदर्शी, प्रदीप प्रियदर्शी आदि शामिल हैं जो लगातार यात्रा के जत्थे को लेकर आगे बढ़ रहे हैं।

 180 total views,  3 views today