जनपथ न्यूज डेस्क
Reported by: गौतम सुमन गर्जना
Edited by: राकेश कुमार
www.janpathnews.com
24 नवम्बर 2022

भागलपुर : भागलपुर जिले से मिर्जाचौकी तक नेशनल हाइवे-80 (एनएच-80) का चौड़ीकरण कार्य होना है। अब इसे मूर्त रूप देने के लिए हलचलें तेज हो गयी है। सबसे पहले अतिक्रमित जमीन को खाली कराने का काम चल रहा है और इसके लिए अब प्रशासन की ओर से अतिक्रमणकारियों को अधिकतम तीन दिनों की मोहलत दे दी गई। उसके बाद फिर पुलिस बलों का प्रयोग करके जबरन अतिक्रमण हटाया जा सकता है।

अतिक्रमण मुक्त कराने में प्रशासन की मांगी मदद : भागलपुर को जाम की समस्या से निजात दिलाने के लिए नेशनल हाइवे का चौडीकरण काफी हदतक सहायक सिद्ध होगा। जीरोमाइल से मिर्जाचौकी तक वर्तमान एनएच-80 के चौड़ीकरण कार्य को शुरू करने में सबसे बड़ी बाधा अतिक्रमित जमीनों को खाली कराना है।
जमीन को अतिक्रमण मुक्त कराने के लिए अब प्रशासन की मदद मांगी गई है। एनएच के अधिकारियों ने इसे लेकर अंचल प्रशासन को पत्र भी लिखा था।

कहलगांव के एसडीओ ने दिया जवाब : अंचल प्रशासन से अनुरोध किया गया था कि वो अतिक्रमित जमीनों को जल्द खाली करवा दें ताकि तेज गति से एनएच-80 का चौड़ीकरण कार्य पूरा हो सके। वहीं, अब कहलगांव के एसडीओ ने इस पत्र का जवाब भेजा है। मिली जानकारी के अनुसार, जवाब में एसडीओ ने एनएच के अधिकारियों से कार्य से जुड़ी योजनाओं की तिथिवार जानकारी मांगी है। कार्यस्थल पर कार्य शुरू करने और कार्य प्रगति का ब्योरा भी मांगा गया है।

तीन दिनों की मोहलत दी गई : प्रशासन की ओर से जरुरत के अनुसार पुलिस बल की भी तैनाती की जाएगी। दंडाधिकारी की प्रतिनियुक्ति का फैसला भी ब्योरा मिलने के बाद लिया जाएगा। विदित हो कि मंगलवार को एनएच के अधिकारी कई जगहों पर अतिक्रमण खाली कराने के लिए पुलिस बल के साथ पहुंच चुके थे।
अतिक्रमणकारियों को एनएच प्रशासन की ओर से दो से तीन दिनों की मोहलत दी गई है। ऐसा बताया जा रहा है कि घोघा-पक्कीसराय के पास अतिक्रमण हटाने का काम पहले शुरू होगा।

 212 total views,  3 views today