जनपथ न्यूज डेस्क/पटना

Edited by: राकेश कुमार
18 अगस्त 2022

पटना: पटना के राजीवनगर के भू-माफिया सत्यनारायण सिंह को बुधवार शाम करीब पौने आठ बजे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। उसे पटना सिविल कोर्ट के मेन गेट के बाहर से पकड़ा। सत्यनारायण के खिलाफ हाल ही में राजीव नगर पुलिस थाने में आवास बोर्ड की जमीन पर अवैध कब्जे के दो केस दर्ज हुए थे। इसके बाद से ही पुलिस को उसकी तलाश थी। बिहार राज्य नेपाली नगर और राजीव नगर में बिहार राज्य आवास बोर्ड की जमीन को बेचकर पैसा कमाने के आरोप में आर्थिक अपराध इकाई की टीम पटना के छह गृह निर्माण समितियों की संपति की जांच कर रही है।

बता दे कि सत्यनारायण सिंह बुधवार को राजीव नगर थाना में दर्ज केस 385/15 में सिविल कोर्ट में तारीख पर पहुंचने वाले थे और पुलिस को सत्यनारायण सिंह के पटना सिविल कोर्ट में आने की सूचना मिली थी। इसके बाद दोपहर करीब 1 बजे ही कोर्ट के बाहर पहुंच गई और उसके निकलने का इंतजार करती रही। सत्यनारायण को इसकी भनक लग गई और वह कोर्ट परिसर में ही रुका रहा। पुलिस ने करीब 7 घंटे तक वहीं इंतजार किया। देर शाम में जब वह अपने दो करीबियों के साथ कोर्ट से बाहर आया तो पुलिस ने उसे गेट पर ही पकड़ लिया।

बता दे कि इस गिरफ्तारी का कनेक्शन राजीव नगर के नेपाली नगर से जुड़ा है। अतिक्रमण बता नेपाली नगर में बिहार राज्य आवास बोर्ड की जिस जमीन पे बने घरों को तोड़ा गया, उसमें से जमीन के काफी हिस्से को निराला को ऑपरेटिव ने बेचा था। सत्यनारायण सिंह ही वो शख्श है, जो पिछले कई सालों से निराला को ऑपरेटिव को चलाते आ रहे हैं।

बताते चले कि हाईकोर्ट ने सरकारी जमीन को बेचने वाले भू माफियाओं पर एफआईआर दर्ज कर सख्त कार्रवाई करने को कहा था। सभी भू माफियाओं को गिरफ्तार करने का आदेश दिया गया था।

इस मामले में हाईकोर्ट के कड़े रूख के बाद से राजीव नगर के सारे भू माफिया गायब हो गए। पुलिस लगातार सबकी तलाश कर रही थी। पुलिस के मुताबिक सत्यनारायण सिंह भी घर छोड़कर गायब थे। बुधवार को वो राजीव नगर थाना में ही दर्ज केस 385/15 में सिविल कोर्ट में तारीख पर पहुंचे थे। इस बात की जानकारी मिलने के बाद पुलिस टीम वहां पहुंची। कुछ लोगों ने पुलिस की कार्रवाई में दखल देने की कोशिश की थी, पर रात में सत्यनारायण सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया।

 57 total views,  6 views today