एसएसपी बाबूराम ने लोगों को अफवाहों से बचने की की अपील

जनपथ न्यूज डेस्क
Reported by: गौतम सुमन गर्जना
Edited by: राकेश कुमार
6 दिसंबर 2022

भागलपुर : श्रद्धा हत्याकांड के बाद कई ऐसे मामले सामने आ रहे हैं, जिनमें हत्यारा न केवल हत्या कर रहा है बल्कि शव के टूकड़े करने की भी कोशिश हो रही है। ऐसा ही मिलता जुलता हत्या का एक मामला बिहार से सामने आया है। भागलपुर जिले में एक सिरफिरे आशिक ने एक विवाहिता पर चाकू से कई बार वार किया। उसके अंगों को काटने की भी काशिश की गयी। लहूलूहान हालत में महिला को अस्पताल लाया गया। वहां ईलाज के दौरान महिला की मौत हो गयी। घटना भागलपुर के पीरपैंती थाना क्षेत्र के छोटी दिलौरी की है। मृतक महिला की पहचान पीरपैंती थाना क्षेत्र के छोटी दिलौरी निवासी अशोक यादव की पत्नी नीलम देवी के रूप में हुई है।

शकील का महिला के घर आना जाना था : घटना के संबंध में बताया जाता है कि आरोपित शकील का महिला के घर आना जाना था। परिवार के सदस्यों से उसकी काफी नजदीकी हो गयी थी। घरवालों को जब शकील की नीयत पर शक हुआ, तो उसके घर आने जाने पर रोक लगा दी गयी। बताया जाता है कि नीलम ने ही अशोक यादव से किसी बात को लेकर शकील की शिकायत की थी। इससे नाराज होकर आरोपित शकील ने इस घटना को अंजाम दिया है।

धारदार हथियार से 20 से 25 वार : परिजनों के अनुसार शनिवार की शाम जब नीलम देवी बाजार से लौट रही थी। तभी शकील ने नीलम देवी के ऊपर धारदार हथियार से हमला कर दिया। आरोपी शकील ने न केवल महिला के शरीर पर धारदार हथियार से 20 से 25 वार किया, बल्कि उसके अंग काटने का भी प्रयास किया। लोगों को जमा होते देख शकील मौके से फरार हो गया।

आरोपी शकील की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी : खून से लथपथ नीलम देवी को आनन-फानन में अस्पताल लाया गया. जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। उधर, घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने मामले की छानबीन शुरू कर दी है। आरोपी शकील की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है। वहीं इस घटना से पूरे इलाके में हड़कंप मच गया है। पुलिस का कहना है कि हत्या के पीछे आपसी विवाद बताया जा रहा है, मामले की जांच चल रही है।

इस बावत रविवार को एसएसपी बाबूराम ने बताया कि इस मामले में अभी तक की जांच से यह पता चला है कि मृतका तथा अभियुक्त, दोनों के खेत अगल-बगल में हैं और अभियुक्त ज्यादातर बासा में ही रहता था। इनदोनों में घनिष्ठ सम्बन्ध थे। मृतका ने अपनी लड़की की शादी में अभियुक्त से कुछ पैसे उधार लिए थे। अभियुक्त पैसे लौटाने के लिए दबाव बना रहा था। मृतका पैसे नही लौटा पा रही थी, इसको लेकर एक महीना पहले भी दोनो पक्षों में विवाद हुआ था। शनिवार को इसी बात को लेकर अभियुक्त ने मृतका पर तेज धारदार हथियार से कई वार किए, जिससे वो गम्भीर रूप से जख्मी हो गई और मायागंज में इलाज के दौरान उसकी मृत्यु हो गई। उन्होंने बताया कि मृतिका के परिजनों के बयान के आधार पर दोनों अभियुक्त भाइयों के विरुद्ध केस दर्ज किया गया है। एक की गिरफ्तारी हो चुकी है तथा दूसरी की गिरफ्तारी के लिए टीम छापेमारी कर रही है।

एसडीपीओ तथा एसडीओ ने भी घटनास्थल का दौरा किया तथा लोगों से बात की है। वहां पर किसी प्रकार का कोई साम्प्रदायिक तनाव नहीं है। एहतियात के तौर बल की प्रतिनियुक्ति कर दी गई है।
इसके बावजूद कुछ शरारती तत्व अफवाह फैला रहे हैं ताकि मामले को सांप्रदायिक रंग दिया जा सके। उन्होंने लोगों से अपील किया है कि वे किसी अफवाहों पर ध्यान न दें।

 216 total views,  3 views today