जनपथ न्यूज डेस्क

Reported by: गौतम सुमन गर्जना
2 अक्टूबर 2022

भागलपुर : भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता सह पूर्व डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी ने शनिवार को दावा किया कि जो भी नेता कांग्रेस पार्टी का नया अध्यक्ष चुना जाएगा, वह गांधी परिवार के हाथों की कठपुतली होगा। श्री मोदी ने कहा कि खड़गे हों या कोई और जो भी कांग्रेस अध्यक्ष बनेगा, वह केवल दिखाने के लिए एक चेहरा होगा और वह गांधी परिवार की कठपुतली होगा क्योंकि वास्तविक निर्णय उनके द्वारा ही लिए जाएंगे।

शशि थरूर के घोषणापत्र पर उठाए सवाल : सोनभद्र एक्सप्रेस से बातचीत के दौरान सुशील मोदी ने कांग्रेस के शशि थरूर के बारे में भी बात की, जिनके चुनावी घोषणापत्र में जम्मू-कश्मीर और लद्दाख के छोड़े गए हिस्सों के साथ भारत का गलत नक्शा दिखाया गया था। उन्होंने कहा कि, “यह कोई गलती नहीं हो सकती, जिस तरह से शशि थरूर ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को भारत के नक्शे से हटा दिया, वह उनकी मानसिकता को दर्शाता है क्योंकि देश के इतने महत्वपूर्ण क्षेत्र को हटाना संभव नहीं है।

गौरतलब है कि शुक्रवार को कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव के लिए नामांकन दाखिल करने का आखिरी दिन था। कांग्रेस अध्यक्ष पद के लिए तीन नेताओं ने अपना नामांकन दाखिल किया है।

खड़गे को माना जा रहा सबसे मजबूत उम्मीदवार : कांग्रेस केंद्रीय चुनाव प्राधिकरण के अध्यक्ष मधुसूदन मिस्त्री के अनुसार, मल्लिकार्जुन खड़गे की ओर से 14, शशि थरूर की ओर से पांच और झारखंड के नेता केएन त्रिपाठी की ओर से एक फॉर्म जमा किया गया है।

राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष के पद से इस्तीफा दे चुके खड़गे के गांधी परिवार खासकर राहुल गांधी से अच्छे संबंध हैं। अभी तक खड़गे को मजबूत उम्मीदवार माना जा रहा है। अगर वे कांग्रेस के अध्यक्ष बनते हैं तो 51 साल बाद कांग्रेस को दलित मुखिया मिलेगा।
भारत जोड़ो यात्रा पर निशाना साधते हुए बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने कहा कि देश को बचाने के लिए किसी मार्च की जरूरत नहीं है पर राहुल गांधी को अपनी पार्टी को बचाने के लिए मार्च करना चाहिए।

मोदी ने पूछा- राहुल गांधी को कौन रोक रहा है : कांग्रेस नेता की इस टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए कि ‘कोई ताकत भारत जोड़ो यात्रा को नहीं रोक सकती’, सुशील मोदी ने कहा कि, “राहुल गांधी को मार्च करने से आखिर कौन रोक रहा है? लेकिन जब आप देश को एकजुट करने की बात करते हैं, तो क्या भारत विभाजित है? यह कौन सा भारत है, जिसे राहुल गांधी एकजुट होने की बात कर रहे हैं, भारत पहले से ही एकजुट है। यह कांग्रेस जोड़ो यात्रा है, क्योंकि पार्टी टूट रही है। उन्होंने कहा कि, “कांग्रेस केवल दो राज्यों राजस्थान और छत्तीसगढ़ में सत्ता में है। सभी ने देखा कि राजस्थान में क्या हुआ और अब राहुल गांधी की पार्टी को चुनौती दी जा रही है कि जब कोई और पार्टी का अध्यक्ष बन रहा है तो वह मार्च क्यों कर रहे हैं।”

 45 total views,  3 views today