*जानें क्या है अधिक डराने वाली बात*

जनपथ न्यूज डेस्क
Reported by: गौतम सुमन गर्जना, भागलपुर
Edited by: राकेश कुमार
www.janpathnews.com
13 October 2022

भागलपुर :बिहार के भागलपुर जिले में भी डेंगू का कहर जारी है। इस खतरनाक बिमारी ने अब जिले में अपना पांव पसारना शुरू कर दिया है। रोजाना अब डेंगू के मरीज मिलने लगे हैं। परेशानी यह है जो 4 मरीज बुधवार को भी मिले, वो सभी शहर के पाॅश इलाके में रहते है। चार संक्रमित में एक सदर अस्पताल में तो तीन मायागंज अस्पताल में हुए जांच में डेंगू पाॅजिटिव पाये गये है। ये लोग डेंगू किट यानी एनएन1एजी में पाॅजिटिव पाये गये हैं।

सदर अस्पताल में गंभीर मरीज नहीं होंगे भर्ती :सदर अस्पताल में बने डेंगू वार्ड में गंभीर रोगी को भर्ती नहीं लिया जायेगा। अस्पताल प्रभारी डाॅ राजू ने बताया की यहां कम से कम अस्सी हजार प्लेटलेटस वाले मरीजों को भर्ती लिया जायेगा। इसकी वजह हमारे यहां प्लेटलेटस की सुविधा नहीं है। अगर किसी मरीज को इसकी जरूरत होगी तो उसे मायागंज अस्पताल रेफर करना होगा। इस वजह से सामान्य रोगी का इलाज किया जायेगा। हालांकि, हमारे वार्ड में प्लेटलेटस के अलावा अन्य सभी सुविधा उपलब्ध है। इमरजेंसी के चिकित्सक डेंगू मरीजों को इलाज करेंगे।

ब्लड बैंक प्लेटलेटस करा रहा उपलब्ध: जवाहर लाल नेहरू मेडिकल काॅलेज अस्पताल अधीक्षक डाॅ० ए. के. दास ने बताया कि ब्लड बैंक प्रभारी को आदेश दिया गया है। उनकी ओर से कहा गया है कि जिस भी रोगी को प्लेटलेटस की जरूरत है, उसे तत्काल उपलब्ध कराया जाये और इसे देने में किसी तरह की लापरवाही नहीं होनी चाहिए। वहीं, प्लेटलेटस की कमी नहीं हो, इसके लिए इसे बना कर स्टाॅक में रखा जाये।

जिले में तीन अस्पताल में पांच बेड का डेंगू वार्ड शुरू : भागलपुर शहरी एवं ग्रामीण इलाके में डेंगू के फैलाव को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने तीन सरकारी अस्पताल में पांच बेड का डेंगू वार्ड शुरू किया गया है। सिविल सर्जन डाॅ० उमेश शर्मा ने बताया कि मंगलवार को रेफरल अस्पताल सुलतानगंज, अनुमंडलीय अस्पताल कहलगांव एवं नवगछिया में पांच बेड का डेंगू वार्ड तैयार कर लिया गया है। इन इलाके में अगर मरीज मिलते हैं, तो यहीं इलाज किया जायेगा। इसके अलावा सदर अस्पताल, अनुमंडलीय अस्पताल, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र, पीएचसी एवं शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में डेंगू रैपिड जांच किट से की जा रही है। इसके अलावा मायागंज अस्पताल में एलिजा टेस्ट की विशेष व्यवस्था है।

 207 total views,  3 views today