पटना.  बिहार के सृजन घोटाले में आयकर विभाग की टीम ने गुरुवार को उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी की बहन रेखा मोदी के ठिकानों पर छापा मारा। टीम ने पटना में उनके घर और दुकान पर दस्तावेजों की जांच की। रेखा पर सृजन संस्था की संचालिका के जरिए आभूषण खरीदने का आरोप है। उनके बहाने विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव लगातार उपमुख्यमंत्री पर निशाना साध रहे थे। सुशील मोदी ने कहा था कि अगर सबूत हैं तो आयकर विभाग कार्रवाई के लिए स्वतंत्र है।
 
तेजस्वी ने 28 जून को ट्वीट कर सृजन घोटाले में सुशील मोदी के रिश्तेदारों को सीधा लाभ पहुंचाने का आरोप लगाया था। उन्होंने ट्वीट में लिखा था कि 2500 करोड़ रुपए के घोटाले में उपमुख्यमंत्री की बहन रेखा और भतीजी उर्वशी को कई करोड़ रुपए का भुगतान हुआ। तेजस्वी ने एक स्टेटमेंट का हवाला देते हुए आरोप लगाया था कि उपमुख्यमंत्री के रिश्तेदारों को एक करोड़ 25 लाख रुपए दिए गए।
एनजीओ के खाते में ट्रांसफर होती थी सरकारी राशि : बिहार में जिला प्रशासन के कई विभागों और योजनाओं की राशि सरकारी खाते से अवैध तरीके से ‘सृजन’ एनजीओ को ट्रांसफर की गई। फरवरी 2017 में संचालिका मनोरमा देवी की मौत के बाद जब नकदी को लेकर बैंक और अन्य स्तरों पर परेशानियां आईं तो घोटाले की पोल खुली। मनोरमा देवी के जिंदा रहने तक संस्था को चेक के जरिए रुपए मिलते रहे, लेकिन बाद में चेक बाउंस होने लगे। एनजीओ के खाते में भी रकम नहीं मिली।

Leave a Reply

Your email address will not be published.