जनपथ न्यूज़:- पश्चिम बंगाल के कोलकाता स्थित नीलरतन सरकार मेडिकल कॉलेज अस्पताल में एक रोगी की मौत के बाद जूनियर डॉक्टरों के साथ मृतक के परिजनों की हुई मारपीट की घटना के बाद बंगाल के साथ-साथ अब इसका असर बिहार पर भी दिखने लगा है. पटना एम्स और दरभंगा DMCH के जूनियर डॉक्टर हड़ताल करेंगे. शुक्रवार को NRS मेडिकल कॉलेज में डॉक्टर पर हुए हमले के विरोध में पटना एम्स और दरभंगा मेडिकल कॉलेज के जूनियर डॉक्टर शुक्रवार को एक दिवसीय हड़ताल पर रहेंगे.
पटना एम्स में के जूनियर डॉक्टर के साथ-साथ डॉक्टर भी हड़ताल पर रहेंगे. एक दिन के सांकेतिक हड़ताल पर सभी डॉक्टर जाएंगे. इस वजह से इमरजेंसी छोड़कर सभी सेवाएं बाधित रहेगी. वहीं, DMCH के सभी जूनियर डॉक्टर एक दिवसीय हड़ताल करेंगे. जिसका असर स्वास्थ्य व्यवस्था पर देखने को मिल सकता है.

जूनियर डॉक्टरों के साथ मृतक के परिजनों की हुई मारपीट की घटना के बाद बंगाल के पूर्व एवं पश्चिम मेदिनीपुर जिले की स्वास्थ्य परिसेवा भी ठप हो गई है.
बुधवार की सुबह 9 बजे से जहां दोनों जिले में स्थित सरकारी अस्पतालों की आउटडोर परिसेवा बंद है, वहीं पश्चिम मेदिनीपुर जिला अंतर्गत मेदिनीपुर स्थित मेदिनीपुर मेडिकल कॉलेज व अस्पताल (एमएमसीएच) के समक्ष रोगियों के आक्रोशित परिजनों ने जमकर हंगामा मचाया.
बता दें कि कोलकाता के NRS अस्पताल में जूनियर डॉक्टरों पर हमलों से गुस्साए मेडिकल कॉलेज और अस्पतालों के डॉक्टरों ने कार्य बहिष्कार कर दिया है. कोलकाता के महत्वपूर्ण अस्पतालों में से एक नील रतन सरकार मेडिकल कॉलेज अस्पताल में सोमवार की रात एक रोगी की मौत को लेकर जमकर बवाल हुआ.
आरोप है कि रोगी की मौत के बाद परिजनों ने हंगामा शुरू कर दिया. कहा जा रहा है कि इसके बाद जूनियर डॉक्टरों व रोगी के परिजनों के बीच जमकर मारपीट हुई. इसके बाद से जूनियर डॉक्टरों ने अस्पताल के गेट पर ताला लगाकर पूरा काम ठप कर दिया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.