जितेन्द्र कुमार सिन्हा, पटना 12 अक्तूबर ::

जद(यू) के राष्ट्रीय सचिव राजीव रंजन प्रसाद ने कहा है कि चुनाव में जनता से किए वायदों को सत्ता में आने के बाद उन्हें अमली जामा पहनाने में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का कोई सानी नहीं है। एक तरफ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की बेरोजगारी और महंगाई को लेकर किए गए वायदे अब जुमला बन कर रह गया है।बेरोजगारी चरम पर है। पूर्व के सारे आँकड़े ध्वस्त हो चुके हैं।बेरोजगारी दर घटने की बजाए लगातार बढ़ रहे हैं, वहीं महंगाई दर भी 2014 से भी आज ज्यादा है। दूसरी तरफ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शराबबंदी, हर घर बिजली, नल जल योजना, पंचायती व्यवस्था में महिला आरक्षण जैसे अनेक निर्णय हैं, जो उन्होंने जनता से वायदा करने के बाद जमीन पर प्रभावी ढंग से क्रियान्वित किया है।

उन्होंने कहा है कि हर खेत को पानी एवं रोजगार तथा स्वरोजगार को लेकर यदि नीतीश जी ने कोई निर्णय लिया है तो इसकी कार्ययोजना पर तेजी से कार्य हो रहा है। उक्त बातें पटना स्थित मैनपूरा में जद (यू) सदस्यता अभियान के दौरान कही।

उक्त अवसर पर ई राजेंद्र यादव, मुन्ना केशरी, धीरज कुमार, नागेंद्र कुमार, एजाज अहमद, डॉ० सुनिता बिंद, कंचनमाला चौधरी, अरुण कुमारसिंह, नौशाद खान,
खुशबू कुमारी, कंचनमाला चौधरी, माधुरी पटेल, अरुण कुमार सिंह, वंदना सिन्हा, प्रसून श्रीवास्तव सहित अन्य लोग उपस्थित थे।
——–

 231 total views,  3 views today