चेरिया बरियारपुर :अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के द्वारा चलाए जा रहे हैं चलो गांव से कॉलेज की ओर
कार्यक्रम के लिए प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न गांवों में जाकर छात्रों के बीच कॉलेज चलने कॉलेज चलने का आह्वान किया। जिसका नेतृत्व मंझौल कॉलेज अध्यक्ष अमृतांशु कुमार एवं मंझौल के नगर मंत्री सत्यम कुमार कर रहे थे। इस अवसर पर राष्ट्रीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य अजीत चौधरी एवं बेगूसराय के नगर मंत्री घनश्याम देव ने कहा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद महाविद्यालय में पढ़ाई का माहौल बनाने को लेकर व सुचारु रुप से वर्ग संचालन हो इसको लेकर गांव-गांव में जाकर छात्रों से कॉलेज में पढ़ाई करने कॉलेज में पढ़ाई करने की अपील की। कहा सरकार एवं विश्वविद्यालय प्रशासन कि उदासीनता के चलते महाविद्यालयों में छात्र पढ़ाई करने के लिए नहीं आ रहे हैं। सरकार ही नहीं चाहती के कॉलेज में पढ़ाई हो।
सरकार सिर्फ वोट बैंक के काम कर रही है। वोट बैंक के चलते सरकार सिर्फ जन कल्याणकारी योजना साइकिल, पोशाक, छात्रवृत्ति की राशि देकर छात्रों को मूर्ख बनाने काम कर रही है। छात्रों की मुख्य आवश्यकता शिक्षा है। उस पर सरकार का कोई ध्यान नहीं है। सरकार चाहती छात्र शिक्षित नहीं रहेंगे तो उनके लिए चुनौती नहीं बनेंगे एवं जात पात के नाम पर चुनाव जीतते रहेंगे। विगत कई वर्षों से महाविद्यालय में पठन-पाठन  बिल्कुल ठप पड़ा हुआ है। सभी महाविद्यालय मे शिक्षकों की काफी कमी है। सरकार ने  अगर शुरु में ही शिक्षक की बहाली करवाती तो आज महाविद्यालय में शिक्षक की कमी नहीं रहती। वर्ष 2014 से शिक्षकों की बहाली प्रक्रिया हो रही है। लेकिन इसमें इतना जटिलता है कि कॉलेज कैंपस में बहुत कम शिक्षक बहाल हो रहे हैं। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद मांग करती है शिक्षक की बहाली प्रक्रिया को लचीला बनाया जाए। इस अवसर पर मंझौल के नगर मंत्री सत्यम कुमार एवं सोशल मीडिया प्रभारी मुन्ना गुरु ने कहा कि अब समय आ गया है छात्र को महाविद्यालय में जाकर अपना पढ़ाई करवाना होगा। छात्र संघ चुनाव के होने के बाद महाविद्यालय सुचारु रुप से कक्ष संचालन हो, इसके लिए प्रयास किया जा रहा है। छात्रों को कॉलेज में सभी सुविधा मिले। विकास मद् में जो राशि छात्रों से ली जा रही है उसे छात्र हित में खर्चा हो। 75% छात्रों की उपस्थिति अनिवार्य हो। इस मौके पर कॉलेज  अध्यक्ष अमृतांशु कुमार एवं कोषाध्यक्ष आदर्श भारती ने कहा कि महाविद्यालय शिक्षक को 5 घंटे महाविद्यालय कैंपस में रहना होगा। ताकि छात्र महाविद्यालय पढ़ाई करने के लिए आवे तो उन्हें तो उन्हें कोई असुविधा नहीं हो। छात्रों का जत्था चेरिया बरियारपुर, शाहपुर, खैरा एवं बिक्रमपुर गांव के छात्रों के साथ बैठक कर जागरुक किया। मौके आशुतोष कुमार, सोनू, शिवम, रजनीश कुमार, मनीष कुमार, रवि कुमार, सत्यम कुमार आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.