जनपथ न्यूज़:- बिहार विधान मंडल का मानसून सत्र आज से शुरू होने जा रहा है. इस सत्र को हंगामेदार बनाने के लिए विपक्ष ने पूरी तैयारी कर ली है. कई सवाल हैं विपक्ष के बास सरकार को घेरने के लिए. लेकिन मीडिया के साथ-साथ सरकार की तरफ से भी एक सवाल बड़े ही जोर शोर से उठाया जा रहा है. सवाल यह है कि क्या आज विधानसभा की कार्यवाही में बिहार में गायब तेजस्वी यादव दिखेंगे. क्या तेजस्वी यादव इस सत्र में शामिल होंगे.
विधान मंडल के इस सत्र में कई सवाल विपक्ष सरकार के सामने रखेगा. सरकार को हर मोर्चे पर फेल कहने वाला विपक्ष सरकार को घेरेगा. इसके संकेत बहुत पहले से ही दिए जा रहे थे. दरअसल, इस मॉनसून सत्र में कानून व्यवस्था और मुजफ्फरपुर में चमकी बुखार से बच्चों की मौत समेत अन्य मुद्दों को लेकर हंगामे के आसार हैं.
बिहार विधानसभा और विधान परिषद में एक तरफ जहां विपक्ष सरकार को विधि व्यवस्था और चमकी बुखार से लगभग 150 बच्चों की मौत का मुद्दा जोर-शोर से उठाने की तैयारी में है, वहीं सरकार भी विपक्ष के हर सवाल का जवाब देने को तैयार है. विधानमंडल का मॉनसून सत्र 26 जुलाई तक चलेगा और इस दौरान वर्ष 2019-20 के लिए प्रथम अनुपूरक बजट पर र्चचा कर उसे पारित कराया जाएगा. इसके साथ ही कई महत्वपूर्ण विधेयक भी सदन में लाया जाना है.
इधर राजद के प्रदेश अध्यक्ष और विधान परिषद के सदस्य रामचंद्र पूर्वे ने कहा कि उनकी पार्टी राज्य में गिरती विधि व्यवस्था और चमकी बुखार से लगभग डेढ़ सौ बच्चों की हुई मौत का मामला सदन में पुरजोर तरीके से उठाएगी. उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार चमकी बुखार के रोकथाम और इलाज की व्यवस्था करने में विफल रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.