27 जुलाई को पटना सहित सभी जिलों में शिक्षा सुधार शिक्षक सत्कार कार्यक्रम होगा।

पटना.रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व केंद्रीय मानव संसाधन विकास राज्य मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि पढ़ाने में अक्षम शिक्षकों से राज्य सरकार दूसरा काम ले। गुणवत्तापूर्ण पढ़ाने नहीं देने के कारण ही शिक्षकों का सम्मान आज घटा है। शिक्षा में सुधार के लिए अच्छे शिक्षकों की नियुक्ति जरूरी है। पार्टी का संकल्प है कि शिक्षा में सुधार करके रहेंगे। इसी कड़ी में 27 जुलाई को गुरु पूर्णिमा के दिन राजधानी सहित सभी जिलों में पार्टी के नेता और कार्यकर्ता एक दिन का उपवास रख कर सरकारी और गैर सरकारी स्कूलों के शिक्षकों को सम्मानित करेंगे। शुक्रवार को वे पार्टी कार्यालय में पत्रकारों से बात कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि पिछले दिनों दिल्ली की बैठक में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शिक्षकों को मिड डे मिल योजना से अलग रखने की बात कही थी। इसके लिए पार्टी मुख्यमंत्री को धन्यवाद देती है। मध्याह्न भोजन योजना क्रियान्वयन सहित सभी प्रकार के गैर शैक्षणिक कार्यों से शिक्षकों को मुक्त रखने की जरूरत है। आज कई जगहों पर शिक्षकों को ठेकेदार बना दिया गया है। उन्हें स्कूल भवन निर्माण के साथ ही अन्य कार्य कराने की जिम्मेदारी दी गई है।

डबल इंजन की सरकार में बिहार को क्या फायदा मिला? इस सवाल कहा- राज्य सरकार ने केंद्र से बच्चों को किताब की जगह राशि देने का अनुरोध किया, जिस पर तुरंत सहमति दे दी गई। बच्चों के खाता में सीधे किताब की राशि भेजने का प्रावधान किया गया है। राजनीतिक सवालों का जवाब नहीं दिया। राजद नेता रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा कि रालोसपा महागठबंधन में जल्द शामिल हो जाएगी। क्या रालोसपा महागठबंधन में जा रही है? इस पर कहा- राजनीतिक सवालों से महत्वपूर्ण है कि शिक्षा में सुधार।a

Leave a Reply

Your email address will not be published.