जनपथ न्यूज़ :- पटना सत्रहवीं लोकसभा  के लिए पहले चरण के मतदान में पश्चिम बंगाल और त्रिपुरा ने बाजी मारी, वहीं बिहार सबसे फिसड्डी साबित हुआ। बिहार में सबसे कम वोटिंग होने से नेताओं के होश फाख्ता हो गये हैं। गठबंधन और एनडीए दोनों ही पक्षों के नेता अभी तक इस गुत्थी को सुलझाने में लगे हुए हैं कि आखिर ऐसा हुआ क्यों है और कम वोटिंग का नफा-नुकसान क्या होगा।  गुरुवार को अट्ठारह  राज्‍यों और दो केंद्र शासित प्रदेशों की इक्यानवे सीटों पर पहले चरण के लिए वोट डाले गये।  आंध्र प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय, उत्तराखंड, मिजोरम, नगालैंड, सिक्किम और तेलंगाना की सभी सीटों पर मतदान हुआ। आंध्र प्रदेश की 25 सीटों पर 66 प्रतिशत, उत्‍तराखंड की पांच सीटों पर 57.85 प्रतिशत, तेलंगाना की 17 सीटों पर 60 प्रतिशत, सिक्किम, मिजोरम और नगालैंड की एक-एक सीटों पर क्रमश 69, 60 और 79 प्रतिशत वोट पड़े। त्रिपुरा की एक सीट पर 81. 8 प्रतिशत और असम की पांच सीटों पर 68 प्रतिशत वोटिंग हुई। पश्चिम बंगाल की दो सीटों पर 81 प्रतिशत वोट पड़े। जबकि बिहार  में कुल 50 फीसदी वोट ही पड़े हैं।
उत्‍तर प्रदेश की आठ सीटों पर औसतन 63.69 प्रतिशत मतदान हुआ। सहारनपुर में 70.68, कैराना में 62.10 और मुजफ्फरनगर में 66.66 प्रतिशत वोट पड़े। बिजनौर में मतदान प्रतिशत 65.40, मेरठ में 63.00 और बागपत में 63.90 रहा। वहीं गौतमबुद्धनगर में 60.15 और गाजियाबाद में सबसे कम 57.60 प्रतिशत वोटिंग हुई।
केंद्रशासित प्रदेशों अंडमान और निकोबार और लक्षद्वीप की एक-एक सीट पर क्रमश: 70.67 और 66 प्रतिशत वोट पड़े।
छत्‍तीसगढ़ की एक सीट पर 56 प्रतिशत वोट डाले गए। जम्‍मू-कश्‍मीर की दो सीटों पर 54.49 प्रतिशत वोटिंग हुई।
अरुणाचल प्रदेश की दो सीटों पर 66 प्रतिशत, बिहार की चार सीटों पर 50 प्रतिशत और महाराष्‍ट्र की सात सीटों पर 56 प्रतिशत वोटिंग हुई।
मेघालय की दो सीटों पर 67.16 प्रतिशत और ओडिशा की चार सीटों पर 68 पर्सेंट वोट डाले गए
पहले चरण में जिन दिग्‍गजों की किस्‍मत ईवीएम में दर्ज हुई उनमें नितिन गडकरी (नागपुर), असदुद्दीन ओवैसी (हैदराबाद), अजित सिंह (मुजफ्फरनगर), वीके सिंह (गाजियाबाद), डॉ. महेश शर्मा (गौतमबुद्धनगर), जयंत चौधरी (बागपत), चिराग पासवान (जमुई) शामिल हैं। हिंदुस्तानी अवाम मार्चा (हम) के प्रमुख व बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी (गया) और उत्‍तराखंड के पूर्व सीएम हरीश रावत (नैनीताल-उधमसिंह नगर) की किस्मत का फैसला हो गया है, जिसका ऐलान 23 मई को होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.