जनपथ न्यूज डेस्क

Edited by: राकेश कुमार
11 सितंबर 2022

नवादा: बिहार के नवादा जिले से एक चौंकाने वाली घटना सामने आई है। नवादा जिले के नगर थाने में दर्ज कांडो की समीक्षा करने पहुंचे पुलिस अधीक्षक डॉ. गौरव मंगला ने नगर थाने में तैनात पांच पुलिस अफसरों को लॉकअप में बंद कर दिया। इस घटना के सामने आने के बाद पुलिस महकमे में खलबली मची हुई है। जिला से लेकर राज्य स्तर पर पुलिस एसोसिएशन उठ खड़ा हुआ है। आरोप है कि आठ सितंबर की रात एसपी ने नगर थाना के 2 दारोगा और 3 जमादार एसआई शत्रुघ्न पासवान, एसआई रामरेखा सिंह, एएसआई संतोष पासवान, एएसआई संजय सिंह और एएसआई रामेश्वर उरांव को थाना हाजत में बंद कर दिया।

सूत्रों से मिली जानकारी अनुसार करीब 2 घंटे तक सभी थाना हाजत में बंद रखे गए। बाद में सभी को मुक्त किया गया। हालांकि, एसपी इन आरोपों को खारिज करते हैं और साथ ही नगर थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर विजय कुमार सिंह ने भी इस ऐसी किसी घटना से इंकार किया है।

पूरा मामला 8 सितंबर की रात 10 बजे का है। करीब 9 बजे एसपी नगर थाना पहुंचे थे, नगर थाने में दर्ज कांडों का समीक्षा करने के दौरान कुछ अफसरों की लापरवाही सामने आई, इसके बाद वे खफा हो गए और पांच पुलिस अफसरों को हाजत में बंद करा दिया। करीब दो घंटे बाद सभी को हाजत से निकाला गया।

6 Views