जनपथ न्यूज़ भागलपुर. अलीगंज के गंगा विहार कॉलोनी में शुक्रवार शाम साढ़े सात बजे घर में घुस कर तीन मनचलों ने इंटर की छात्रा (17 वर्ष) से गैंगरेप की कोशिश की। विरोध करने पर छात्रा के सिर पर एसिड डाल कर मनचलों ने मां के सामने ही उसे जला डाला। बेटी को बचाने में उसकी मां भी आंशिक रूप से एसिड से जल गई।
छात्रा को इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया। देर रात परिजन उसे लेकर बनारस के लिए रवाना हो गए। डॉक्टरों ने उसकी हालत नाजुक बताई है। सिर, गर्दन, चेहरा, दोनों हाथ समेत छात्रा का 45 प्रतिशत शरीर झुलस गया है। एसिड इतना शक्तिशाली था कि शरीर के जिस स्थान पर गिरा, वहां से मांस गल कर गिर रहा है।
पुलिस ने इस मामले में छात्रा के पड़ो‌स में रहने वाले एक नशेड़ी युवक प्रिंस कुमार और उसके भाई सौरभ को हिरासत में लिया है। दोनों से पूछताछ की जा रही है। प्रिंस के घर से बैटरी का पानी मिला है। मौके से पुलिस ने एक कट्टा भी बरामद किया है, जो तीनों मनचले लेकर आए थे। वारदात में शामिल तीनों मनचले महेशपुर व गंगटी मोहल्ले के बताए जाते हैं। पुलिस तीनों की तलाश कर रही है। छात्रा के पिता की अलीगंज चौक पर सोने-चांदी की दुकान है। जानकारी पाकर सिटी एसपी सुशांत कुमार सरोज, सिटी डीएसपी राजवंश सिंह, मोजाहिदपुर थानेदार, बबरगंज थानेदार मौके पर पहुंच मामले की जांच की। छात्रा शहर के प्रतिष्ठित स्कूल में पढ़ती है।
विरोध किया तो सिर पर डाल दिया एसिड
छात्रा की मां ने बताया कि शाम में बेटी के साथ किचन में खाना बना रहे थे। घर का मुख्य दरवाजा भीतर से बंद था। अचानक छत के रास्ते तीन लड़के घर में घुस आए। सभी ने अपने चेहरों को ढक रखा था। लड़कों ने हथियार दिखा कर मेरे सामने ही किचन से बेटी को खींच कर ले जाने लगे। विरोध करने पर तीन में एक लड़के ने बोतल से एसिड निकाल कर मेरी बेटी के सिर पर डाल दिया, जिससे वह चीखने-चिल्लाने लगी।
बेटी को बचाने में मेरी भी बांह एसिड से जल गयी। तीनों लड़कों से वह अकेले भिड़ गई और छीना-झपटी में मनचलों का कट्टा वहीं किचन में गिर गया, जिसे पुलिस ने बाद में बरामद किया। वारदात के बाद तीन लड़के मुख्य दरवाजे को खोल कर फरार हो गए। बताया जाता है कि तीन बुलेट मोटरसाइकिल से भागे हैं। जिस बोतल में एसिड था, वह बोतल भी मनचले अपने साथ ले गए। पुलिस ने छात्रा की घर की छत पर थैला में रखा एक सफेद रूमाल भी बरामद किया है। संभावना जताई जा रही है कि उसे थैले में भर कर मनचले एसिड की बोतल लाए होंगे।
छात्रा बयान देने की स्थिति में नहीं, एक हिरासत में
छात्रा अभी बोलने की स्थिति की में नहीं है। इस कारण उसका बयान नहीं लिया जा सका है। किस कारण से एसिड अटैक किया गया है, इसकी जांच की जा रही है। एक युवक को हिरासत में लिया है और बाकी की पहचान व गिरफ्तारी के लिए टीम का गठन किया गया है। 
आशीष भारती, एसएसपी

Leave a Reply

Your email address will not be published.