*बादलों में सूरज कभी छिप नहीं सकता, सत्य के आगे झूठ टिक नहीं सकता*

जनपथ न्यूज डेस्क
Reported by: गौतम सुमन गर्जना/भागलपुर
Edited by: राकेश कुमार
7 सितंबर 2022

भागलपुर : चाहे हृदय को ताप दो,चाहे मुझे अभिशाप दो;
कुछ भी करो कर्तव्‍य पथ से कभी भागूँगा नहीं और वरदान माँगूँगा नहीं।

उक्त बातें सोशल मीडिया के जरिये भागलपुर के युवा समाज सेवी व पूर्व डिप्टी मेयर सह लोजपा नेता राजेश वर्मा ने कही। उन्होंने कहा कि कुछ लोगों के द्वारा मेरी व मेरे परिवार की छवि को खराब करने की लाख कोशिशों के बावजूद मुझे इस बात की खुशी है कि शहर के हजारों लोगों के द्वारा कॉल, मैसेज एवं सोशल मीडिया के माध्यम से साथ खड़े रहने की बात कही जा रही है। उन्होंने कहा कि जन सहयोग और जनता जनार्दन का आशीर्वाद ही हमारी ताकत है, आरोप किसी पर भी लगाया जा सकता है, लेकिन लगाए गए गलत आरोपों को सिद्ध नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि सत्य परेशान तो होता है, पर पराजीत नहीं। उन्होंने कहा कि इससे पूर्व भी उन पर कई आरोप लगाए गए और फिर उन आरोपों की सच्चाई भी लोगों के सामने आई। उन्होंने अपने शुभचिंतकों और उनपर विश्वास करने वाले जनता जनार्दन को आश्वस्त करते हुए कहा कि वर्तमान आरोपों की भी सच्चाई और वास्तविकता लोगों के सामने जरूर आएगी।

युवा समाजसेवी श्री वर्मा ने कहा कि जब पूरा परिवार, मित्र और स्नेही जन साथ हों, तो बड़ी से बड़ी समस्या भी स्वत: छोटी लगती है। उन्होंने कहा कि खुद व अपने परिजनों पर लगे आरोपों की जांच कर रहे अधिकारियों को हमने पूर्ण सहयोग किया है और आगे भी करते रहेंगे। भागलपुर वासियों के स्नेह, प्रेम और आशीर्वाद से हम सभी कुशल मंगल से हैं और अपने सेवा भाव को लेकर सभी के बीच पहले की ही तरह सदैव उपस्थित रहने के लिए स्वस्थमन से संकल्पित हूं। उन्होंने वैसे लोगों का आभार प्रकट करते हुए कहा कि कुछ लोग मुझपर बेबुनियादी और मनगढ़ंत आरोप लगाकर मुझे बदनाम करने की कोशिश में अपना समय दे रहे हैं। कम से कम इससे उनका प्रचार-प्रसार तो हो रहा है। श्री वर्मा ने भागलपुर वासियों से आग्रह किया है कि वे अपने विश्वास को यूँ हीं उनपर बनाए रखें और सूत्रों के हवाले से आ रही सनसनीखेज और मिथ्या भरे अफवाहों पर कतई ध्यान मत दें। आपका यह सेवक राजेश वर्मा न कभी गलत था, न कभी गलत है और न कभी गलत साबित होगा।

बहरहाल, यह सत्य है कि जिसने लूटकर बंद कोठियां भर रखी है, आज वही दूसरे घर की तलाशी करवाते हैं। लेकिन जिस तरह बादलों में कभी सुरज छिप नहीं सकता, उसी तरह सत्य के आगे झूठ कभी टिक नहीं सकता।

9 Views