जनपथ न्यूज़ :-  एक शर्मनाक घटना सामने आई है. एक कलयुगी मां ने किया ममता को तार तार. 15 दिन के दुधमुंही बच्ची को देवड़ी मन्दिर में छोड़ कर फरार हो गई.  सुबह-सुबह जब मन्दिर परिसर में बच्चे की रोने की अवाज सुनाई दी तो बगल के घरवाले मदन मुंडा और उसकी पत्नी मन्दिर की तरफ गये तो देखा की एक बच्ची कपड़े में लिपटी हुई है और रो रही है.
बच्चे को रोता देख सुभद्रा देवी की ममता जाग उठी और बच्ची को उठा कर अपने घर ले आयी और आस-पास के लोगों को भी खबर किया. लोग जमा हो गये और तमाड़ थाना को सूचना दिया गया है.

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार बच्चे को रखने वाला मदन भी गरीब है. इसलिए वो बच्ची की परवरिश नहीं कर सकता. इसलिए उन्होंने कहा कि अगर इसके परिजन आयेंगे तो बच्ची को दे देंगे. लेकिन नहीं आने पर खुद ही किसी तरह पालन पोषण करेंगे.
बताया जा रहा है कि मां ने मज़बूरी वश बच्ची को मंदिर में छोड़ दिया. यह घटना है सुबह की. जब पड़ोस के लोगों ने उसे रोते-बिलखते देखा. और उसे मंदिर से उठा लिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.