जनपथ न्यूज़ :-  पटना/मसौढ़ी. इंस्पेक्शन कैरेज गरुड़ से नदौल और जट डुमरी हॉल्ट पर दो यात्रियों की कटकर मौत हो गई। घटना गुरुवार की देर रात उस वक्त हुई, जब पटना की ओर से जा रही ट्रेन पर सवार यात्री जट डुमरी हॉल्ट और नदौल स्टेशन पर उतरने के बाद रेलवे ट्रैक पार कर रहे थे। इस बीच गया की ओर से रेलवे अधिकारियों की गरूड़ ट्रैक पर आ गई। गरूड़ बंधुआ से गया होते पटना आ रही थी। इस हादसे में नदौल स्टेशन पर 52 साल के नागा साव निवासी मटौढ़ा गांव की मौत हो गई, वहीं जट डुमरी हॉल्ट पर पिपरा थाने के बसियावां गांव के बैजनाथ पांडेय उर्फ अप्पू की मौत हो गई। दोनों घटनाएं रात करीब 7:45 से 8 बजे के बीच हुई। गरुड़ वहां से पटना के लिए निकल गई।
इधर, दो यात्रियों की मौत के बाद नदौल स्टेशन व जट डुमरी हॉल्ट पर ग्रामीणों के साथ यात्रियों ने हंगामा किया। नदौल स्टेशन पर उग्र लोगों ने 3243 अप इंटरसिटी एक्‍सप्रेस का हौज पाइप काट दिया। इस ट्रेन पर पथराव करने के साथ 53214 डाउन सवारी गाड़ी पर ग्रामीणों ने जमकर पथराव किया। इस कारण 53214 डाउन सवारी गाड़ी नदौल स्‍टेशन पर करीब तीन घंटे खड़ी रही। इधर, रेलवे प्रशासन ने यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए गया-पटना रेलखंड पर ट्रेनों का परिचालन रोक दिया। इस घटना के बाद पटना-गया रेलखंड पर रात 8 से 11 बजे तक रेलवे का परिचालन बंद रहा। इससे आधा दर्जन ट्रेनें प्रभावित हुईं। रेलवे, आरपीएफ, मसौढ़ी पुलिस ने नदौल स्टेशन रेलवे ट्रैक पर पहुंच किसी तरह ग्रामीणों को शांत कराया।
नदौल के बाद जट डुमरी हॉल्ट पर आगजनी, एनएच 83 जाम
नदौल स्टेशन पर हंगामा व पथराव होने के बाद उग्र लोगों ने जट डुमरी हॉल्ट का जाम कर दिया। रेलवे ट्रैक से लेकर पास में स्थित एनएच 83 को जाम कर दिया। यही नहीं रेलवे ट्रैक और सड़क पर टायर जलकर जमकर हंगामा व प्रदर्शन किया। वहां भी पुलिस पहुंची पर लोगों का उनपर कोई असर नहींं पड़ रहा था। जट डुमरी रेलवे ट्रैक पर व आगजनी को देखते हुए रेलवे परिचालन रोक दिया गया। इस घटना से पटना-गया के बीच कई ट्रेनें जहां-तहां रुकी रहीं, जिससे यात्रियों को परेशानियों का सामना करना पड़ा। सड़क जाम होने से भी वाहनों की लंबी कतारें लग गईं।
यात्री सहमे, बंद कर दीं ट्रेनों की खिड़कियां  
नदौल स्टेशन पर खड़ी ट्रेनों पर पथराव होने से यात्री सहम गए। ट्रेन में सवार यात्रियों में अफरातफरी मच गई। आनन-फानन में यात्रियों ने गेट व खिड़कियों को बंद कर दिया। यात्री ट्रेन से उतरने की कोशिश करने लगे, पर रेलवे द्वारा घोषणा की गई कि खिड़कियों को बंद कर दें। हालांकि, पथराव में किसी के गंभीर रूप से घायल होने की सूचना नहीं है।
किस ट्रेन से घटना हुई, होगी जांच : सीपीआरओ
पूर्व मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने घटना पर दुःख प्रकट करते हुए कहा कि किस ट्रेन से घटना हुई है, इसकी जांच की जा जाएगी। उन्होंने नागरिकों से अनधिकृत स्थानों पर रेल पटरी को पार नहीं करने की अपील की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.