जनपथ न्यूज़ भागलपुर. बिहार के भागलपुर जिले में एक दंपति रविवार को शादी करने के बाद सीधे तातारपुर थाना पहुंचे और इंस्पेक्टर के आशीर्वाद लेने के बाद दुल्हन ससुराल के लिए रवाना हुई। लड़का और लड़की तातारपुर थाना क्षेत्र के घाट मोहल्ले के रहने वाले हैं और दोनों के बीच पिछले 4 साल से प्रेम संबंध चल रहा था। 21 दिसंबर को दोनों घर से भागकर गया चले गए और वहां के विष्णुपद मंदिर में शादी कर ली।
थाने से ससुराल रवाना हुई दुल्हन
तातारपुर थाने में स्थानीय पार्षद मोहम्मद असगर, पार्षद प्रतिनिधि राजेश कुमार ने दंपति को आशीर्वाद दिया। पार्षद की पहल पर समाज के लोगों ने दोनों की शादी को मंजूरी दी। दोनों ने एक-दूसरे के साथ रहने के लिए थाने में लिखित आवेदन दिया। इसके बाद इंस्पेक्टर अमरनाथ प्रसाद ने दूल्हा-दुल्हन को आशीर्वाद दिया और उम्र सर्टिफिकेट देकर विदा किया। लड़की की उम्र करीब 19 साल है और वह झुनझुनवाला कॉलेज में पार्ट वन में पढ़ती है। लड़का भागलपुर आईटीआई का छात्र है।
शादी के लिए राजी नहीं थे परिजन
लड़की निशा का कहना है कि उसके घरवाले इस शादी के लिए राजी नहीं थे। 21 दिसंबर को जब ऋषभ निशा को भगाकर शादी के लिए गया ले गया, तो परिजन थाने में अपहरण का केस दर्ज कराने के लिए अड़े थे। पुलिस ने जांच में पाया कि लड़की बालिग है। लड़की के पिता ने धमकी दी कि वह अदालत का दरवाजा खटखटाएंगे क्योंकि उन्हें यह शादी मंजूर नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.