केरल से चुनाव नहीं लड़ेंगे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, आंतरिक कलह की वजह से तेज हुई थी चर्चा

Breaking News ताजा खबरें राजनीति राष्ट्रीय

जनपथ न्यूज़ :-  कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी केरल से लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेंगे. सूत्रों के मुताबिक राहुल गांधी को केरल से चुनाव लड़ने के लिए आमंत्रित करना पार्टी की आंतरिक कलह का नतीजा था. सूत्रों का कहना है कि पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने न तो इस विकल्प के बारे में कुछ सोचा है और न ही कोई चर्चा की.

बताया जा रहा है कि वायनाड सीट को लेकर कांग्रेस के दो वरिष्ठ नेताओं, रमेश चेन्नीथला और पूर्व सीएम ओमान चांडी के बीच मतभेद था और यह तय नहीं हो पा रहा था कि इस सीट से किसको मैदान में उतारा जाए. इसके बाद प्रदेश कांग्रेस की तरफ से राहुल गांधी को इस सीट से चुनाव लड़ने का प्रस्ताव दिया गया.

आपको बता दें कि रविवार को ही अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव ओमान चांडी ने कहा था कि, ‘राहुल गांधी के वायनाड (Wayanad Seat) से चुनाव लड़ने को लेकर कोई भ्रम नहीं है. यहां हमारी पार्टी ने पहले ही हमारी इच्छा व्यक्त कर दी है कि ऐसा होना चाहिए. अब यह फैसला गांधी को लेना है’.

गौरतलब है कि शनिवार को, चांडी, विपक्ष के नेता रमेश चेन्नीथला, वर्तमान प्रदेश अध्यक्ष मुल्लपल्ली रामचंद्रन और पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष वी.एम. सुधीरन, एम.एम. हसन समेत वरिष्ठ नेताओं ने गांधी से इस सीट से लड़ने का आग्रह किया था. साल 2009 में बना वायनाड संसदीय क्षेत्र कांग्रेस का गढ़ है. साल 2009 और 2014 के संसदीय चुनावों में यहां से कांग्रेस नेता एम.आई. शानवाज जीते थे. लेकिन 2018 में उनके निधन के बाद से यह सीट खाली है.

आपको बता दें कि राहुल गांधी अमेठी के अलावा एक और सीट से चुनाव लड़ने की संभावनाओं पर अमेठी से बीजेपी की प्रत्याशी स्मृति ईरानी ने चुटकी ली. अपने ट्विटर अकाउंट के जरिए स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए लिखा कि बुलावों का स्वांग रचा जा रहा है क्योंकि अमेठी की जनता ने राहुल गांधी को नकार दिया है. स्मृति ईरानी ने लिखा कि अमेठी ने भगाया, जगह-जगह से बुलावे का स्वांग रचाया, क्योंकि जनता ने ठुकराया. सिंहासन खाली करो राहुल जी कि जनता आती है. इसी के साथ स्मृति ईरानी ने हैशटैग भाग राहुल भाग का भी इस्तेमाल किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *