RJD के स्थापना दिवस पर साथ आए तेजस्वी-तेजप्रताप, बोले- भाई-भाई को लड़ाने की है कोशिश

Uncategorized राज्य

बिहार की राजधानी पटना में गुरुवार को राष्ट्रीय जनता दल का 22वां स्थापना दिवस समारोह का आयोजन किया गया. इस मौके पर राज्य के कोने-कोने से कार्यकर्ता पहुंचे हैं. पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद की गैरमौजूदगी में उनके दोनों बेटे तेजस्वी यादव और तेजप्रताप यादव इस कार्यक्रम में पहुंचे. दोनों ने एकजुटता दिखाने की भरपूर कोशिश की. दोनों भाई एक साथ समारोह स्थल पहुंचे, तो कार्यकर्ताओं ने जोश में जमकर नारे लगाए.

इस दौरान दोनों भाईयों ने मंच से विरोधियों पर निशाना साधा. तेजस्वी ने कहा कि विरोधी आज हमें कमजोर करने में लगे हुए हैं, भाई-भाई को लड़ाने की साजिश हो रही है. हमेशा लालू जी को निशाना बनाया गया और अब हमें बनाया जा रहा है, लेकिन मैं बता दूं कि विपक्ष सिर्फ मानसिक संतुष्टि लेने का काम कर रहा है. लालू आज हमारे साथ नहीं है इसकी तकलीफ सभी को है, लेकिन उनके साथ न होने की दोषी भी बीजेपी और आरएसएस ही है.

तेजस्वी ने कहा कि हमें सत्ता पाने के लिये नीतीश कुमार की जरूरत नहीं है. हम बीजेपी को अकेले पटखनी देने का दम रखते हैं. हमें किसी की जरूरत नहीं है, न ही नीतीश चाचा और कुर्सी की कोई लालच ही है.

उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार की मुखालफत करने वाले पहले गारंटी लें कि नीतीश कुमार दोबारा पलटी नहीं मारेंगे. तेजस्वी ने कहा कि मेरे बड़े भाई ने मुझे कई बार आशीर्वाद दिया है, लेकिन बावजूद इसके सवाल उठते हैं.

अगर नीतीश चाचा आज भी मुझे सत्ता सौंप दें हम कुर्सी ठुकरा देंगे. अगर मुझे सत्ता या कुर्सी का लालच होता तो हम लालू जी से कहकर बीजेपी से हाथ मिलाकर मुख्यमंत्री बन जाते लेकिन मुझे कुर्सी की कोई लालच नहीं. तेजस्वी ने कहा कि पार्टी में अनुशासन बहुत जरूरी है. इसके लिए पार्टी के सभी बड़े नेताओं का हमें साथ चाहिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *