लखीसराय:-मुन्ना की हत्या का कारण प्रेम-प्रसंग या रंगदारी

ताजा खबरें राज्य

गौतम सुमन गर्जना: नक्सल बाहुल्य थाना क्षेत्र कजरा में सोने-चाँदी के दूकानदार उरैन निवासी जवाहर वर्मा के पुत्र 35बर्षीये राधे मोहन वर्मा उर्फ मुन्ना शाम को अपने दूकान बंद कर नित्य की भाँति मोटर साईकिल पर सवार हो अपने गाँव उरैन जाने के लिए तो निकला परन्तु देर संध्या तक वह घर नहीं पहुँच पाया.मुन्ना की माँ सुमित्रा देवी ने इस बाबत बताया कि मुन्ना किसी लङकी से प्रेम-प्रसंग में करीब छः महीने पूर्व से गिरफ्त में था और तथाकथित औरत उसे अपनी पत्नी व दोनो बच्चे को छोङकर अपने साथ रहने का दबाब बनाती थी।उसके प्रेम-प्रसंग में फँसकर मुन्ना अक्सर अपनी पत्नी अनिता देवी को मार-पीट करता था।उसके रवैये से उसकी पत्नी सहित दोनो बच्चे 9बर्षीय प्रिया व 7बर्षीय प्रितम भी सहमा-सहमा- सा रहता था।उसे समझाने के लाख चेष्टा के बाबजूद वह उस औरत के जाल के गिरफ्त से नहीं निकल पाया और अपनी गाढी कमाई उसपर लुटाते रहा।घटना की संध्या तथाकथित महिला अपने भाई के साथ उरैन उसके घर पर वाहन पहुँचाने आया तो हमलोगों के द्वारा मुन्ना के बारे में पूछने पर उसने कहा कि कजरा-उरैन रोड में संत माइकेल एकेडमी के पास उसका बैग गिरा देखे हैं बिशेष जानकारी के बारे में अनभिज्ञता जाहिर किया।जब अनहोनी घटना के आशंका से हमलोग कुछ ग्रामीणों के साथ कजरा उसके दूकान पर रात्रि करीब दस बजे पहुँचे तो दूकान का दरवाजा खुला था समान बिखरे थे व दूकान के आगे खून गिरा था.इसकी जानकारी कजरा थाने को देने के बाद कजरा थानाध्यक्ष आशुतोष कुमार ने घटना स्थल पर पहुंच जाँच करते हुए दूकान को मुन्ना के भाई श्याम किशोर वर्मा उर्फ लड्डू से
दूकान बंद करवाया।
वही घटना के करीब बारह घंटे बीत जाने के बाद भी मुन्ना का सुराग नहीं मिल पाया है जबकि तीन विभिन्न स्थलों पर मिले खून की मात्रा से यह प्रतित हो रहा है कि किसी आदमी को उतनी बङी मात्रा में खून निकल जाने के बाद जीवन बचना आश्चर्यजनक हीं हो सकता।दूसरी ओर सूत्र बताते हैं कि उससे किसी अज्ञात के द्वारा रंगदारी की माँग की गई थी।जिसे नहीं देने के बाद घटना का अंजाम दिया गया हो सकता है।
इस बाबत पूछने पर कजरा थानाध्यक्ष आशुतोष कुमार ने बताया कि मुन्ने को उपलब्ध करना पुलिस की प्राथमिकता है।बाद में परिजनो द्वारा दिये गये आवेदन व सूत्रों से मिलने वाली जानकारी के शै पर पुलिस अनुसंधान कर सच्चाई को सामने लाने का प्रयास करेगी।
ईधर घटना को लेकर आम नागरिकों में पुलिस प्रशासन के प्रति रोष देखा जा रहा है।विधि व्यवस्था को दुरूस्त रखने के लिए सूर्य गढा पुलिस इंस्पेक्टर नीरज कुमार दल-बल के साथ घटना स्थल पर कैम्प करते हुए लोगो को समझा-बुझाकर सङक जाम करने से रोकने का प्रयास कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *